इन देशों में महिलाओं पर लगाई गई ऐसी अजीब पाबंदिया सोच कर हैरान हो जाएंगे

यहां महिलाओं को नहीं माना जाता गवाह
मिडल ईस्ट का देश यमन महिलाओं के रहने के लिहाज जरा भी अच्छा नहीं माना जाचा है। यहां के ज्यूडिशरी सिस्टम में महिला को एक संपूर्ण इंसान के तौर पर नहीं माना जाता है। उनकी गवाही को केस में शामिल नहीं किया जाता और न ही उन्हें के तौर पर गिना जाता है।

स्टेडियम में मैच नहीं देख सकतीं महिलाएं
ईरान में महिलाएं स्टेडियम में जाकर पुरुषों के मैच नहीं देख सकती हैं। यहां इस पर पाबंदी है। फुटबॉल यहां बहुत पॉपुलर है और इसकी महिला टीम भी है। बावजूद इसके मेल टीम का मैच देखने की इजाजत महिलाओं को नहीं है।

यहां महिलाएं अब भी नहीं दे सकती हैं वोट
वेटिकन सिटी में ईसाइयों का पवित्र शहर है और पोप का घर है। यहां महिलाओं को वोट देने और अपना बैंक अकाउंट खोलने की परमिशन नहीं है। हालांकि, बैंक अकाउंट वाले इस नियम को बाद में रद्द कर दिया गया।

40 साल से कम की महिला नहीं जाएंगी बाजार
भारत के यूपी स्टेट के असरा गांव में महिलाओं के बाजार जाने पर पाबंदी लगा दी गई थी। 2012 में यहां 40 साल से कम उम्र की महिलाओं के बाजार जाने पर रोक रही। पंचायत ने ये फरमान सुनाते हुए मोबाइल फोन के इस्तेमाल पर भी पाबंदी लगाई थी।

कब्रिस्तान में जाना और महिलाओं का कार चलाना है मना
सऊदी अरब में महिलाएं कब्रिस्तान में कदम भी नहीं रख सकती हैं। राइटर मौरीन के मुताबिक, महिलाओं को अपने किसी खास रिलेटिव की कब्र पर भी जाने की परमिशन नहीं है। ये अधिकार यहां सिर्फ पुरुषों के पास है। सऊदी अरब में महिलाओं की ड्राइविंग बैन करने के लिए कोई ऑफिशियल लॉ नहीं है। महिलाओं को अब बस इतना अधिकार मिल गया कि वो अपने बच्चों को स्कूल छोड़ने और किसी फैमिली मेम्बर को अस्पताल पहुंचाने के लिए कार ड्राइव कर सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *