P0RN फिल्मों की सच्चाई जानकर उड़ जाएंगे होश

0
1942

P0RN फिल्मों का शौक़ीन तो आज की दुनिया में हर कोई है. लेकिन ज्यादातर लोगइन फिल्मों में दिखाई गयी चीजों को लोग सच मान बैठेते हैं और उसकी तुलना खुद से करने लगते हैं. आज हम आपको P0RN की दुनिया की ऐसी सच्चाई बताने जा रहे हैं जिससे शायद ही आप वाकिफ हो.

हमेशा संभव नहीं $ex

आपने देखा होगा कि अडल्ट फिल्मों में काम करने वाले किरदार हमेशा $ex के लिए आतुर रहते हैं. जबकि असल जिंदगी में ऐसा संभव नहीं है. तो आप खुद से या अपने पार्टनर से इस तरह की अपेक्षा न रखें.

टाइमिंग नहीं करती मैटर

P0RN में $ex की अवधि कई घंटों की हो सकती है. लेकिन वास्तविकता में ऐसा संभव नहीं है. औसतन $ex का एक सेशन 15 मिनट तक चल सकता है. आप इसमें थोड़ा बहुत इजाफा या कटौती कर सकते हैं. इसलिए P0RN फिल्मों की टाइमिंग पर भरोसा मत करें.

हर बार नहीं होता ऑर्गेज्म

यह जरूरी नहीं है कि आप जितनी बार भी $ex करें, उतनी बार आप ऑर्गेजम या पूर्ण संतुष्टि तक पहुंचे ही. यह आपके दिमाग पर निर्भर करता है. इसलिए अडल्ट फिल्मों को देखकर इस तरह की कोई भ्रांति अपने मन में न पालें.

$ex पोजीशंस पर न करें भरोसा

P0RN में दिखाए जाने असाधारण ओरल $ex के तरीके या फिर पोजिशन्स कैमरे का कमाल होते हैं. उन पर भरोसा करके असल में ऐसी किसी भी रिस्की पोजिशन या तरीके को ट्राई न करें. $ex की संतुष्टि सिर्फ और सिर्फ आपके और पार्टनर के बीच की केमिस्ट्री पर निर्भर करती है.

खुद से मत करें तुलना

अडल्ट फिल्मों में काम करने वालों की बॉडी असाधारण होती है. ध्यान रखिए इसमें कैमरा ऐंगल का भी कमाल हो सकता है. इसलिए उनके शरीर के आकार के प्रति अत्यधिक आकर्षण से बचें. कई बार उन्हें अडल्ट फिल्में देखने के बाद लगता है कि उनका लिंग छोटा है या फिर उनके स्तन सही शेप में नहीं हैं. इस तरह बातें सोचकर अपने को हीन न समझें

LEAVE A REPLY